Thursday, September 4, 2014

धुआँ उड़ाती उम्र


3 comments:

Digamber Naswa said...

अभी से क्यों इस मिलन की चिंता ... उम्र लम्बी है अभी सुलगने के लिए ...
गहरे शब्द ...

आशीष भाई said...

सुंदर प्रस्तुति , मीनाक्षी जी धन्यवाद !
Information and solutions in Hindi ( हिंदी में समस्त प्रकार की जानकारियाँ )
आपकी इस रचना का लिंक दिनांकः 5 . 9 . 2014 दिन शुक्रवार को I.A.S.I.H पोस्ट्स न्यूज़ पर दिया गया है , कृपया पधारें धन्यवाद !

dr.mahendrag said...

धुंए को उड़ाने वाले कब ज़िंदगी की परवाह करते हैंवे ज़िंदगी को भी सिगरेट ही समझते हैं